Breaking News
Home / Ajab Gajab / अब पाकिस्तान और चीन की नींद उड़ाने के लिए भारतीय सेना को मिलने वाली है ये खास मिसाइल, विरोधी जान लेंगे तो उनके होश उड़ जाएंगे

अब पाकिस्तान और चीन की नींद उड़ाने के लिए भारतीय सेना को मिलने वाली है ये खास मिसाइल, विरोधी जान लेंगे तो उनके होश उड़ जाएंगे

भारत के इस अत्याधुनिक हथियार के सामने कांप उठेगा पाकिस्तान. जी हां, अब बहुत जल्द भारत के हथियार भंडार मे एक ऐसा हथियार शामिल होने वाला हैं जिससे अब सिर्फ पाकिस्तान ही नही बल्कि चीन भी थरथर कांप रहा है. इस मिसाइल ने भारत के इन दोनों पड़ोसी देशों की निंद उड़ा रखी है. आखिर कौन सा है वो मिसाइल जिससे घबरा रहे है भारत के ये पड़ोसी मुल्क…

भारत के इस मिसाइल से खौफ़ मे है दुश्मन ( image source: india today )

इस मिसाइल के नाम से ही कांप उठेगा दुश्मन

भारत के इस मिसाइल का नाम सुनते ही भारत के उन तमाम विरोधी देशों की सांसें तेज हो जाएंगी जो आए दिन भारत को नुकसान पहुंचाने की सोचते है.

वह मिसाइल कोई और नहीं अग्नि 5 मिसाइल है. जिसकी मारक क्षमता 5000 किमी. है. जिसकी रेंज मे सिर्फ पाकिस्तान और चीन ही नहीं अफगानिस्तान, इराक, ईरान, मलेशिया, रूस, चीन, फिलीपींस और इंडोनेशिया जैसे देश शामिल है. इस मिसाइल की रेंज मे सिर्फ अमेरिका और आधा यूरोप को छोड़कर पूरा देश इस मिसाइल की रेंज मे है.

अत्याधुनिक नेविगेशन तकनीकि से लैस है अग्नि 5 मिसाइल ( image source : the hindu)

अत्याधुनिक नेविगेशन तकनीकि से लैस

इस मिसाइल के परीक्षण से जुड़े एक अधिकारी ने कहा है कि, ‘ अभी इस मिसाइल के कुछ और प्री इंडेक्शन टेस्ट बचे हुए है.’ उन्होंने कहा कि,’ यह एक बहुत ही महत्वपूर्ण सामरिक संपति है जो अत्याधुनिक तकनीकि से लैस है. हम इसके परीक्षण के अंतिम स्थिति पर पहुंच चुंके है.’

यह मिसाइल अत्याधुनिक नेवीगेशन तकनीकी से लैस होने के साथ ही यह अपनी श्रृंखला का सबसे आधुनिक हथियार है.

इस मिसाइल का पहला परीक्षण 29 अप्रैल 2012 को किया गया था, वहीं इसका दूसरा परीक्षण 15 सितंबर 2013, तीसरा परीक्षण 31 जनवरी 2015, चौथा 26 दिसंबर 2017 एवं पांचवा परीक्षण 18 जनवरी 2018 को किया गया था. आपको बता दें कि अग्नि 5 मिसाइल का रेंज उन सभी अग्नि मिसाइलों से अधिक है.

ब्रह्मोस मिसाइल का किया गया सफल परीक्षण ( image source: india tv )

ब्रह्मोस का किया गया सफलतापूर्वक परीक्षण

भारत अपने सैन्य शक्ति को बढ़ावा देने के लिए सिर्फ अग्नि मिसाइल पर ही ध्यान केंद्रित नही किये हुए है वो इसके अलावा भी कई और अहम रक्षा मसौदे पर कार्य कर रहे है. जिसके अंतर्गत ब्रह्मोस सुपरसोनिक मिसाइल को 40 सुखोई युद्धक विमानों को जोड़ना है. गौरतलब है कि सुखोई-30 से ब्रह्मोस का सफलतापूर्वक  परीक्षण 22 नवंबर 2017 को किया गया था.

आपको बता दें कि  अग्नि 5  हथियार दुनिया मे सबसे तेज सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल बन गयी है जो हवा मे मार करने वाली है. इसके साथ ही यह 1500 किग्रा. वारहेड ले जाने में भी सक्षम है. इस मिसाइल को अब बहुत जल्द स्ट्रैटजिक फोर्स कमांड (एसएफसी) को सौंपा जाएंगा. इस मिसाइल का सफल परीक्षण  पिछले ही महीने ओडिशा के तट पर किया गया था.

इस तरह का अत्याधुनिक मिसाइल रूस, उत्तर कोरिया, अमेरिका, फ्रांस और चीन के पास भी है.

क्या भारत की सैन्य क्षमता पाकिस्तान को मुंहतोड़ जवाब देने के लिए सक्षम हैं?

news source: dainik bhaskar