Breaking News
Home / Interesting / तपती गर्मी में देश की सुरक्षा करने वाले जवानों को मिलेगी अब ये खास सुविधा, जानकर कहेंगे वाह मोदी जी वाह !

तपती गर्मी में देश की सुरक्षा करने वाले जवानों को मिलेगी अब ये खास सुविधा, जानकर कहेंगे वाह मोदी जी वाह !

जरा सी बिजली चली जाय तो इस गर्मी के महीने में आप हाय तौबा मचा देते होंगे, लेकिन जरा सोचिये कि इस भारी गर्मी में सरहद पर जवान किस हालत में सीमा सुरक्षा पर तैनात रहते होंगे. चिलचिलाती धूप में सेना के जवान बिना किसी सिकन के हमेशा देश की रक्षा में खड़े रहते हैं. हालाँकि ये उनकी परेशानी नहीं बल्कि उनके जज्बे को दर्शाता है लेकिन इसको देखते हुए मोदी सरकार ने अब कुछ ऐसा प्लान बनाया है जो सीमा सुरक्षा पर लगे BSF के जवानों को राहत जरुर देगा.

तपतपाती गर्मियों में भी BSF के जवान देश की सुरक्षा करने में लगे रहते हैं (फोटो सोर्स: पत्रिका)

गर्मियों में तापमान 50 डिग्री तक पहुँच जाता है

आजतक की खबर के मुताबिक जोधपुर, जैसलमेर और बाढ़मेर जैसी जगहों पर गर्मियों में तापमान 50 डिग्री तक पहुँच जाता है. इसके बावजूद वहां तैनात BSF के जवान देश की सुरक्षा में लगे रहते हैं. अभी तक ऐसी जगहों पर ऑब्जरवेशन पोस्ट बने रहते हैं , जिससे जवानों को गर्मी से थोड़ी राहत मिल जाती थी लेकिन अब मोदी सरकार इन ऑब्जरवेशन पोस्ट को एयर कंडीशन करने का फैसला किया है.

ऐसी सुविधाएँ मिलेंगी जिनसे वो घंटों तक रेतीले बवंडर में भी..

जैसलमेर में पाकिस्तान की धूर्तता पर नजर रखने के लिए तैनात BSF के जवानों को भीषण गर्मी का सामना करना पड़ता है. जिनसे निपटने के लिए अब एयर कंडीशन जैसी सुविधाएँ जवानों को मिलने जा रही है. ऑब्जरवेशन पोस्ट के एयर कंडीशन होने के बाद जवानों को ऐसी सुविधाएँ मिलेंगी जिनसे वो घंटों तक रेतीले बवंडर में भी अपनी हिफाजत करते हुए देश की सुरक्षा करेंगे. मिली जानकारी के मुताबिक ऐसे क्षेत्रों में हर 3 किमी पर ऑब्जरवेशन पोस्ट जो (एयर कंडीशन होंगे) बनाये जायेंगे.

तपती गर्मी में ऑब्जरवेशन पोस्ट में बैठा एक जवान देश की सीमा सुरक्षा करता हुआ (फोटो सोर्स: आजतक)

गर्मी से अभी तक ऐसे निपटते थे जवान

गर्मियों में रेतीले क्षेत्रों में 50 डिग्री तक का तापमान सामान्य अवस्था है, मई में गर्मी और बढ़ जाती है. ऐसे में इस भीषण गर्मी से निपटने के लिए जवानों को नींबू पानी और ग्लूकोज लगातार दिया जाता है और हर दो घंटे में जवानों की शिफ्ट बदलती रहती है. इससे जवानों बीमार नहीं पड़ते.

इसके साथ ही जवानों द्वारा डेजर्ट स्कूटर का प्रयोग किया जाता है. गर्मी से बचने के लिए आँखों पर चश्मा, एक बोरे में पानी की बोतल लपेटकर रखना, सिर पर टोपी का प्रयोग करना भी शामिल है. फ़िलहाल ऑब्जरवेशन पोस्ट के एयर कंडीशन होने के बाद जवानों को और राहत मिलेगी.