Breaking News
Home / Breaking News / कर्नाटक में गिरने वाली है गठबंधन सरकार? रो पड़े सीएम कुमारस्वामी और बोले..

कर्नाटक में गिरने वाली है गठबंधन सरकार? रो पड़े सीएम कुमारस्वामी और बोले..

कर्नाटक में भारी सियासत के बाद गठबंधन की सरकार तो बन गयी लेकिन सरकार के टूटने की खबरें लगातार आकर लोगों के होश उड़ा रही हैं. बीजेपी को रोकने के लिए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी ने जेडीएस की सभी शर्तों को मंजूर करते हुए घुटने टेक दिए थे. जिसके बाद राज्य के मुख्यमंत्री के लिए कुमारस्वामी को सहमती बन गयी. उसके बाद मंत्रिमंडल के विस्तार में काफी देरी आई. जिसके चलते दोनों दलों के विधायकों में मंत्री पद को लेकर खींचतान मची. जिसके बाद गठबंधन में दरार कि खबरें लगातार आती रही. अब कर्नाटक के मुख्यमंत्री कुमारस्वामी ने कुछ ऐसा किया है, जानकर आप भी हैरान रह जायेंगे.

Image Source-Indiawest

जानकारी के लिए बता दें कर्नाटक में गठबंधन की सरकार चलाना मुख्यमंत्री कुमारस्वामी के लिए लिए गले की फांस बन गया है. उन्होंने कहा है कि गठबंधन का विषपान कर रहा हूँ. यह किसी और का कहना नहीं है बल्कि खुद सीएम कुमारस्वामी का कहना है. शनिवार को जेडीएस के एक कार्यक्रम के दौरान सीएम कुमारस्वामी का दर्द झलका है. इस दौरान उनकी आंसू भर आये. उन्होंने अपना दर्द झलकाते हुए कहा है कि वह इस समय के हालात से खुश नहीं हैं. उन्होंने कहा है कि उनकी पार्टी के लोग इस बात से खुश हैं कि अन्ना या थम्मा भाई सीएम बने हैं.

Image Source-Navbharattimes

कुमारस्वामी इस समय इतने दुखी हैं कि जेडीएस की तरफ से सीएम बने की ख़ुशी में आयोजित कार्यक्रम में उन्होंने जो किया है वो सोचनीय है. इस कार्यक्रम में उन्होंने गुलदस्ते और फूलमाला तक को स्वीकार नहीं किया. कुमारस्वामी ने कहा है कि मैं किसी को बिना बताये, अपने दर्द को जब्त कर रहा हूँ. जो किसी जहर से कम नहीं हैं. गठबंधन की सरकार चलने को लेकर उन्होंने कहा है कि इस समय जो कुछ भी चल रहा है, उससे वह खुश नहीं हैं. दरअसल सोशल मीडिया पर लगातार हो रही फेसबुक पोस्ट से दुखी हैं. कहीं कोई सड़क ढहने की वीडियो पोस्ट करते हुए लिख रहा है कि सीएम को इसकी चिंता करनी चाहिए. वहीँ कोस्टल में मछुआरे लोन माफ़ ना होने की वजह से परेशान हैं.

Image Source-Amarujala

गौरतलब है कि कुमारस्वामी ने कहा है कि लोन माफ़ी के लिए उन्हें अधिकारियों को मनाने के लिए कितने पापड़ बेलने पड़ रहे हैं. उन्होंने कहा है कि ‘अब वे ‘अन्ना भाग्य स्कीम’ में 5 किलो चावल की बजाय 7 किलो चाहते हैं. मैं इसके लिए कहां से 2500 करोड़ रुपये लेकर आऊं? टैक्स लगाने के लिए मेरी आलोचना हो रही है. इन सबके बावजूद मीडिया कह रही है कि मेरी लोन माफी स्कीम में स्पष्टता नहीं है. अगर मैं चाहूं तो 2 घंटों के भीतर सीएम का पद छोड़ दूं.’ इसके आगे उन्होंने राज्य की जनता को दोष देते हुए कहा कि यह उनका दुर्भाग्य है कि चुनावों के दौरान लोग उन्हें सुनने के लिए तो आये लेकिन वोट देने की बारी आई तो लोग उन्हें भूल गये. कुमारस्वामी ने कहा, ‘ईश्वर ने मुझे यह शक्ति (सीएम पद) दी है. वह तय करेंगे कि मुझे कितने दिन रहना है.’ इस तरह कुमारस्वामी का दर्द झलका है और उनकी आँखों में आंसू आ जाते हैं. उनके इस बयान से यही लगता है कि कर्नाटक में सरकार ज्यादा समय तक नहीं चलने वाली है.

NewsSource-Navbharat