Breaking News
Home / Political / राजस्थान में बीजेपी को बैठे बिठाये मिल गई खुशी..वजह ऐसी कि कांग्रेसी नेताओं पर तरस आयेगा

राजस्थान में बीजेपी को बैठे बिठाये मिल गई खुशी..वजह ऐसी कि कांग्रेसी नेताओं पर तरस आयेगा

राजस्थान में इस समय कांग्रेसी नेताओं में एक ऐसी बात को लेकर घमासान मचा है कि बीजेपी के नेता गोलगप्पे खा-खा कर मजे ले रहे हैं. कांग्रेस महासचिव अशोक गहलोत क्या, सीपी जोशी और सचिन पायलट तक ऐसी खींचतान मचाये हुए हैं कि कांग्रेस प्रभारी अविनाश पांडेय को सभी नेताओं को अनुशासनात्मक कार्रवाई की धमकी देकर रोकना पड़ रहा है. यही नही इन बड़े नेताओं के समर्थक भी मैदान में कूद पड़े हैं और अपने-अपने खेमे के नेताओं के लिए आवाज बुलंद कर रहे हैं. हालांकि इस धमाचौकड़ी में वह ये भूलते जा रहे हैं कि जनता सबसे ऊपर है जैसा वह चाहेगी वैसा ही होगा. आइए बताते हैं क्या है पूरा मामला.

कांग्रेस के तीन दिग्गजों में मचा घमासान: (Image Source-smedia2)

सीएम बनने के लिए कांग्रेसी नेताओं में मची होड़

राजस्थान कांग्रेस इस समय मुश्किल भरे दौर से गुजर रही है. दरअसल राजस्थान में कांग्रेस को कहीं से भनक लग गई कि वह राज्य में सत्ता वापसी कर सकती है. फिर क्या पार्टी में मुख्यमंत्री बनने को लेकर ऐसी खींचतान शुरु हो गई कि नेता एक-दूसरे पर भारी पड़ने लगे मामला बढ़ता देख पार्टी को अनुशासनात्मक कार्रवाई की धमकी देनी पड़ी.

सचिन पायलट और कांग्रेस महासचिव अशोक गहलोत: (Image Source-Smedia2)

 

हालांकि कांग्रेस कह रही है कि पार्टी में चुनाव पूर्व सीएम का चेहरा घोषित करने की परंपरा नही है लेकिन अशोक गहलोत, सीपी जोशी और सचिन पायलट की मुख्यमंत्री बनने के ख्वाहिश रोके नही रुक रही है और यही सियासी गलियारे में चर्चा का विषय बनी हुई है..

मुख्यमंत्री पद बना पार्टी में कलह की वजह

कांग्रेस कार्यकर्ताओं में जोश और उम्मीद दोनों दिख रही है लेकिन पार्टी जीतती है तो किसके सिर बंधेगा सेहरा इसको लेकर ऊपर से नीचे तक के सभी नेता ‘कन्फ्यूज’ हैं. इसकी वजह है कांग्रेस के बड़े नेताओं में मुख्यमंत्री बनने की चाहत. राज्य में अशोक गहलोत सबसे लोकप्रिय नेता हैं तो सचिन पायलट भी कुछ कम नही है. अशोक गहलोत एक बार कह भी चुके हैं सचिन पायलट पार्टी का चेहरा हैं लेकिन फिर वह इसका खंडन करते हुए कहते हैं कि पार्टी आलाकमान जिसको चाहेगा वही मुख्यमंत्री बनेगा.

सोनिया और राहुल गाँधी: (Image Source-Newsstate)

बड़े नेताओं के समर्थक हो रहे लामबंद

पूर्व केन्द्रीय मंत्री लालचंद कटारिया गहलोत को सीएम का चेहरा घोषित करने की मांग कर मामले को और तूल दे दिया तो अब पायलट खेमे ने इसकी शिकायत कांग्रेस अलाकमान से कर दी है. पायलट समर्थक और जयपुर से कांग्रेस अध्य़क्ष प्रताप सिंह खाचरियावास प्रदेश के उपचुनावों में जीत का श्रेय सचिन पायलट को दे रहे हैं. सचिन पायलट भी इशारों में गहलोत पर हमला बोल रहे हैं कि पार्टी ने बड़े नेताओं को बहुत कुछ दिया और अब उन्हें लालच छोड़कर पार्टी की सेवा में लग जाना चाहिए.

कांग्रेस नेता सचिन पायलट🙁 Image Source-punjab kesari)

 

सीपी जोशी भी राज्य़ की राजनीति में जोर-शोर से ताल ठोंक रहे हैं. पूर्व मंत्री उदयलाल अंजना ने खुलेआम सीपी जोशी को सीएम का उम्मीदवार घोषित करने की मांग की है. इन सब से परेशान होकर कांग्रेस प्रभारी अविनाश पांडेय ने सभी नेताओं को अनुशासनात्मक कार्रवाई की धमकी देते हुए कहा है कि मुख्यमंत्री की उम्मीदवारी को लेकर कोई कुछ नही बोलेगा.

कांग्रेस नेता सीपी जोशी: (Image Source-cloudfront)

 

उधर जिस तरह से पार्टी के नेता एक-दूसरे की टोपी उछालने में लगे हुए हैं उससे कांग्रेस पार्टी के आम कार्यकर्ता भी डरे हुए हैं कि चुनाव में कहीं पिछले साल की तरह मुंह की न खानी पड़ जाय.

आपसे एक सीधा सवाल

कांग्रेस में मची इस तरह की खींचतान के बारे में आपकी क्या राय है?

News Source-Aajtak