Breaking News
Home / Breaking News / सनसनीखेज खुलासा: पीएम के खिलाफ साजिश में “पकड़े गये” 2 कांग्रेसी नेता, इस घटिया हरकत को अंजाम देना चाहते थे

सनसनीखेज खुलासा: पीएम के खिलाफ साजिश में “पकड़े गये” 2 कांग्रेसी नेता, इस घटिया हरकत को अंजाम देना चाहते थे

पीएम मोदी की हत्या की साजिश और अर्बन नक्सल मामले में आये दिन तरह-तरह के खुलासे हो रहे हैं, जिनमें से कुछ तो बेहद ही हैरान करने वाले हैं. अब इस मामले में एक और सनसनीखेज खुलासा हुआ है, जिसे जानकर आप भी हैरान रह जायेंगे. जी मीडिया को सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार प्रतिबंधित संगठन सीपीआई (एम) में अर्बन लीडरशिप के कई सीनियर कोमरेड्स नवंबर 2017 से मई 2018 तक लगातार कुछ कांग्रेसी नेताओं के संपर्क में थे. इस बड़े खुलासे ने हड़कंप मचा दिया है.

Image Source-india.com

जांच अधिकारीयों ने यह भी खुलासा किया है कि वे लोग आर्थिक मदद पाने के लिए 2 कांग्रेस नेताओं से दिल्ली में दिसंबर 2017 और जनवरी 2018 में मुलाक़ात की थी. हालाँकि अधिकारीयों ने यह भी साफ किया है कि यह मीटिंग हथियार खरीदने के लिए नही हुई थी. सूत्रों ने दावा किया है कि इस मामले में पुणे पुलिस ने जून 2018 में गिरफ्तार किये गये आरोपियों की फोन डिटेल में खुलासा किया है कि सीनियर कोमरेड्स और इन दो कांग्रेसी नेताओं के बीच में दर्जनों बार फोन पर बातचीत हुई थी. इनमें से कुछ फोन कॉल पर तो बहुत लंबी बातचीत हुई थी.

Image Source-ZeeNews

अब इस मामले में नप सकते हैं कांग्रेसी नेता 

अब इस मामल में नया मोड़ आ गया है. पुलिस उन दोनों कांग्रेसी नेताओं से पूछताछ कर सकती है. पुलिस को इस बात का भी शक है कि इन नेताओं ने खुद के फोन के बजाय दूसरे लोगों के फ़ोन से कॉन्फिडेंशियल बात की है. पुलिस ने अभी तक इन दोनों कांग्रेसी नेताओं के नाम के खुलासे नहीं किये हैं लेकिन इस खुलासे के बाद से कांग्रेस में हड़कंप मच गया है. पुलिस ने बताया है कि हाउस अरेस्ट किये गये पाँचों आरोपियों की पुलिस कस्टडी मिलने के बाद ही इन कांग्रेसी नेताओं के लिए पूछताछ के लिए उठाया जा सकता है. पूछताछ के लिए पुलिस इन नेताओं के खिलाफ समन जारी कर सकता है.

Image Source-ZeeNews

गौरतलब है कि ये बात तो आपको पहले से ही पता होगी कि जिन माओवादियों को गिरफ्तार किया गया है, उनके पास से एक चिट्ठी बरामद की गयी थी, जिसमें इस बात का खुलासा हो गया है कि ये आरोपी किस तरह अपने मंसूबों को अंजाम देने के लिए राजनैतिक मदद इकट्ठा करने में लगे हुए थे. पीएम मोदी के साथ कोई अनहोनी होती उससे पहले इस बड़ी साजिश का खुलासा हो गया. आरोपियों के पास से मिली चिट्ठी में इस बात का जिक्र था कि “प्रतिबंधित संगठन सीपीआई(एम) में अर्बन लीडरशिप के सीनियर कॉमरेड ने कांग्रेस पार्टी में अपने दोस्तों से दलित आंदोलन को उग्र करने के लिए आर्थिक और कानूनी मदद के लिए बातचीत की है और कांग्रेस पार्टी में उनके यह दोस्त उन्हें यह मदद मुहैया करवाने के लिए तैयार भी हैं.” अब इस खुलासे के बाद कांग्रेस नेता लंबे नप सकते हैं.

News Source-ZeeNews