Breaking News
Home / Political / तेल के बढ़ते दामों को लेकर संबित पात्रा ने बताये तीन ऐसे कारण जिसके बाद विरोधी हल्ला करना बंद कर देंगे

तेल के बढ़ते दामों को लेकर संबित पात्रा ने बताये तीन ऐसे कारण जिसके बाद विरोधी हल्ला करना बंद कर देंगे

पेट्रोल-डीजल के दामों को लेकर कांग्रेस नेता हमेशा बीजेपी पर यह आरोप लगाती रहती है कि पेट्रोल और डीजल के दामों में बढ़ोतरी का प्रमुख कारण सरकार की नीति है. सरकार जान बूझकर पेट्रोल और डीजल के दामों में बढ़ोतरी कर रहीं है जिससे उन्हें अच्छा रेवेन्यू प्राप्त हो सकें. जिसके बाद बीजेपी नेता संबित पात्रा ने तेल के बढ़ते दामों को लेकर ऐसे प्रमुख तीन कारणों को बताया है, जिसे जानने के बाद विरोधी पार्टी भी हल्ला करना बंद कर देंगे.

 

पेट्रोल 16 पैसे और डीजल 19 पैसे प्रति लीटर महंगा हुआ है ( image source: hindustan)

पेट्रोल और डीजल के मूल्यों में वृद्धि के प्रमुख कारण

बीजेपी नेता संबित पात्रा ने पेट्रोल और डीजल के दामों में बढ़ोतरी के प्रमुख तीन कारण बताए है, जिसमें उन्होंने पहला कारण कच्चे तेल उत्पादक देशों द्वारा कच्चे तेल के उत्पादन में लायी गयी कमी, दूसरा मुकाबला डॉलर के मुकाबले रूपयों का स्तर गिरना और तीसरा प्रमुख कारण इरान और वेनेजुएला में चल रहा अस्थिरता के दौर को जिम्मेदार ठहराया है. जिसके बाद उन्होंने कहा कि, “पेट्रोल और डीजल के मूल्यों में वृद्धि के प्रमुख कारण सरकार की नीतियां नहीं ये तीन कारक है.”

अमेरिका ने लगाए इरान पर कड़े प्रतिबंध ( image source: jansatta)

इरान पर अमेरिका ने अख्तियार किए कड़े रूख 

आपको बता दे कि अमेरिका द्वारा इरान पर आर्थिक प्रतिबंध लगाने एवं कड़ा रूख अख्तियार करने के बाद भारत को कच्चे तेल आयात करने में काफी कठिनाइयों का सामने करना पड़ रहा है. भारत और इरान के बीच आज भी दोस्ताना संबंध है लेकिन भारत, इरान के साथ व्यापार कर अमेरिका के साथ अपना रिश्ता खराब करना नहीं चाहेगा. क्योंकि जिस कदर प्रशांत महासागर में चीन अपना दबदबा बढ़ाने की कोशिश कर रहा है, उसके इस दबदबे को कम करने के लिए भारत के लिए यह आवश्यक है कि वह अमेरिका का साथ दें.

जल्द ही अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के साथ बैठक करेगा भारत ( image source: aaj tak)

जल्द ही अमेरिका के साथ बैठक करेगा भारत

लेकिन अमेरिका के साथ देने के चक्कर में भारत को इरान से अपना मुंह मोड़ना पड़ा और उसे पेट्रोल और डीजल सउदी अरब से आयात करने पड़ रहें है जिससे पेट्रोल और डीजल काफी कीफायती पड़ रहें है, जिससे पेट्रोल और डीजल के दामों में लगातार बढ़ोतरी हो रहीं है. फिलहाल भारत, अमेरिका से इरान पर लगाए गए आर्थिक प्रतिबंधों पर लचीलापूर्ण रूख अख्तियार करने के मसले पर बात करने जा रहीं है जिससे भारत को सकारात्मक परिणाम की उम्मीद है.

अगर यह बैठक सफल होता है तो भारत फिर इरान से पेट्रोल और डीजल का आयात कर सकता है तो एक बार फिर भारत में पेट्रोल और डीजल के मूल्यों में कमी देखने को मिलेगी. आपको बता दे कि पेट्रोल और डीजल का वर्तमान मूल्य 79.31 एवं 71.34 रूपये है.