Breaking News
Home / Political / पाकिस्तानी सेना ने गुपचुप तरीके से भारत से किया संपर्क, वजह जानकर हैरान रह जायेंगे..

पाकिस्तानी सेना ने गुपचुप तरीके से भारत से किया संपर्क, वजह जानकर हैरान रह जायेंगे..

दुनिया के देशों से अलग-थलग पड़ चुके पाकिस्तान ने एक ऐसा कदम उठाया है जिसे जानकर आप हैरान रह जायेंगे. खबर के अनुसार पाकिस्तान की आर्मी ने भारत से बातचीत के लिए संपर्क किया है. सबसे बड़ी बात है कि यह संपर्क बड़े ही गुपचुप तरीके से किया गया है. पाकिस्तानी आर्मी के इस बातचीत के ऑफर पर भारत ने कोई जवाब नही दिया है. दरअसल पाकिस्तान की आर्थिक स्थिति लगातार कमजोर होती जा रही है, डॉलर के मुकाबले पाकिस्तानी रुपया रिकार्ड स्तर पर पहुंच गया है ऐसे में पाकिस्तान काफी डर गया है और इस स्थिति से पार पाने के लिए उसने भारत के सामने यह प्रस्ताव रखा है.

पाकिस्तानी आर्मी चीफ जनरल कमर बाजवा: (Image Source-outlook)

 

पाकिस्तानी अार्मी ने बातचीत के लिए भारत से किया संपर्क

पाकिस्तान ने 2015 से बंद पड़ी बातचीत को फिर से शुरु करने के लिए भारत के सामने प्रस्ताव रखा है. गौर करने वाली बात यह है कि प्रस्ताव पाकिस्तान आर्मी की तरफ से आया है. दरअसल पाकिस्तान अपने यहां ध्वस्त हो रही अर्थव्यवस्था को लेकर काफी चिंतित है. उसको यह समझ आ गया है कि कमजोर अर्थव्यवस्था से उसकी सुरक्षा पर असर पड़ेगा इसलिए पाकिस्तान ने भारत की ओर रुख किया है.

जनरल कमर बाजवा औऱ भारतीय आर्मी चीफ जनरल विपिन रावत: (Image Source-Static langing)

 

माना जा रहा है कि पाकिस्तान की कमजोर होती जा रही अर्थव्यवस्था का फायदा उठाकर वहां कि विद्रोही ताकतें भी उभर रही हैं औऱ कई कट्टरपंथी संगठन देश के लिए बड़ी चुनौती पेश कर रहे हैं. इसीलिए घबराये पाकिस्तान ने अब भारत से बेहतर संबंध बनाने की कोशिश में है.

इसलिए पाकिस्तान भारत से संपर्क कर रहा है

पाकिस्तान द्वारा भारत के सामने बातचीत का प्रस्ताव रखने के पीछे की वजह द्वीपक्षीय व्यापार को बढ़ावा देना माना जा रहा है. अगर दोनों देश के बीच कश्मीर को लेकर द्विपक्षीय वार्ता होती है तो इससे आपसी व्यापार को बढ़ावा मिलेगा जिससे पाकिस्तान की पहुंच रीजनल मार्केट तक होगी. इससे दोनों देशों की अर्थव्यवस्था खासकर पाकिस्तान को काफी फायदा पहुंचेगा.

पाकिस्तान पर अरबों डॉलर का चीनी कर्ज है जिसे चुकाना उसके लिए टेढ़ी खीर साबित हो रहा है. दूसरी ओर वह अपने यहां कि अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष से भी 9 अरब डॉलर की मांग करने वाला है. इन सबके बीच वह भारत के साथ व्यापारिक संबंधों को ठीक कर वह अपने यहां कि अर्थव्यवस्था को स्थिर करना चाहता है.

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री एक बैठक के दौरान: (Image Source-Indianwire)

 

आपको बता दें कि पाकिस्तानी आर्मी के चीफ जनरल कमर बाजवा को भारत के साथ नरम रुख के लिए जाना जाता है. जनरल बाजवा पहले भी बातचीत को दोनों देशों के बीच विवादों को सुलझाने का एकमात्र जरिया बता चुके हैं. किसी भी पाकिस्तानी जनरल का ऐसा रुख कम ही देखने को मिलता है.

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी: (Image Source-Sthinida)

 

इससे पहले भी मोदी सरकार से प्रभावित होकर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान भारत में चल रही कई योजनाओं की नकल अपने देश में लागू करने की बात पर जोर दिया था और अब वहां के आर्मी चीफ द्वारा भारत के सामने बातचीत का प्रस्ताव रखना बीजेपी के नेतृत्व वाली मोदी सरकार की बड़ी कूटनीतिक उपलब्धि मानी जा रही है.  

आपसे एक सीधा सवाल

पाकिस्तानी आर्मी की तरफ से आये इस बातचीत के प्रस्ताव को आप कैसे देखते हैं?

News Source-NBT