Breaking News
Home / Political / जिन्हें लग रहा है कि पेट्रोल और डीजल के दाम नही होंगे कम, वे ‘मोदी सरकार’ का जरा यह प्लान पढ़ लें !

जिन्हें लग रहा है कि पेट्रोल और डीजल के दाम नही होंगे कम, वे ‘मोदी सरकार’ का जरा यह प्लान पढ़ लें !

देश में पेट्रोल और डीजल के दाम लगातार आसमान छू रहे हैं. लेकिन जिन्हें लग रहा है कि पेट्रोल और डीजल के दाम कम नही होंगे उनके लिए यह खबर बड़ी राहत देने वाली है. मोदी सरकार पेट्रोलियम पदार्थों के कीमत को लेकर गंभीर दिख रही है. इनके दामों में कमी लाने के लिए मोदी सरकार ने बड़ी योजना बनाई है. दरअसल केन्द्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने इस संबंध में बड़ा बयान दिया है. उनकी माने तो सरकार ऐसी योजना पर काम कर रही है जिससे जल्द ही देश में डीजल और पेट्रोल के दामों में गिरावट आ जायेगी. नितिन गडकरी के इस बयान के बाद लोगों ने राहत की सांस ली है. आइए बताते हैं क्या है यह योजना.

प्रधानमंत्री नरेनद्र मोदी: (Image Source-Punjabkesari)

 50 रुपये में डीजल और 55 रुपये में मिलेगा पेट्रोल

देश में पेट्रोल और डीजल के दामों में बेतहासा बढ़ोत्तरी के बीच केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने बड़ा बयान दिया है. मंत्री ने कहा सरकार एक ऐसी योजना पर काम कर रही है जिससे पेट्रोल और डीजल के दामों में जल्द ही भारी कमी देखने को मिलेगी. उन्होंने बताया कि पेट्रोलियम मंत्रालय देश में 5 इथेनॉल प्लांट लगाने जा रहा है. यह इथेनॉल लकड़ी और कचरे से तैयार किया जायेगा. इसके बाद पेट्रोल 55 रुपये में और डीजल 50 रुपये में उपलब्ध हो पायेगा.

केन्द्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी: (Image Source-Sthindia)

 

गडकरी ने देश में बढ़ रहे पेट्रोल और डीजल के दामोंं का कारण भी बताया. उन्होंने कहा कि हम आठ लाख करोड़ रुपये के पेट्रोल और डीजल आयात करते हैं. इसकी कीमतें अंतर्राष्ट्रीय बाजार में लगातार बढ़ रही है. इधर डॉलर के मुकाबले रुपया गिर रहा है. जिससे पेट्रोल और डीजल के दामों में वृद्धि हो रही है.

ऐसे बनेगा इथेनॉल

केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी के अनुसार पेट्रोलियम मंत्रालय जिन 5 इथेनॉल संयत्रों को स्थापित कर रहा है उनमें धान के भूसे, गेहूं के भूसे, गन्ना और बांस से इथेनॉल का उत्पादन किया जायेगा. उन्होंने कहा कि देश का वनवासी खास कर छत्तीसगढ़ के आदिवासी इथेनॉल, मेथेनॉल और जैव ईंधन का उत्पादन कर देश के विमानों को उड़ाने में मदद कर सकते हैं.

जेट्रोफा से बनेगा जैव ईंधन: (Image Source-Sthindia)

 

बता दें कि मोदी सरकार पेट्रोल और डीजल के दामोें में कमी लाने के लिए पहले से ही जैव ईंधन और इथेनॉल के उपयोग को बढ़ावा देने का काम कर रही है. जिसके तहत जेट्रोफा से बने जैव ईंधन का इस्तेमाल पहली बार उड़ान में किया गया. दिल्ली से देहरादून जा रहे विमान में पहली बार जैव ईधन का इस्तेमाल किया गया.

आपसे एक सीधा सवाल

जैव ईंधन देश के विकास में कितना सहायक होगा?

News Source-ZEE News